Introduction of computer in hindi


What is computer in hindi



What is computer | Computer क्या है।


Computer एक Electronic यंत्र  है जो data लेता है और उस data पर प्रक्रिया (processing) करके एक अर्थ पूर्ण  परिणाम  देता है। Computer शब्द की उत्पत्ति ऄंग्रेज़ी भाषा के कम्पप्यूट (compute) शब्द से हुइ है जिसका अर्थ है गणना करना। Computer को हिंदी भाषा में अभिकल यंत्र (Programmable Machine) कहते है, इसके अन्य नाम संगणक व परिकलक हैं। Computer दिए गए गणितीय (numeric) तथा तार्किक संक्रियाओं ( logical data ) को क्रम से स्वचालित रूप से करने में पूर्णता सक्षम है।

Computer जो data लेता है उसे हम input data बोलते है और इस डेटा पे processing  कर के जो परिणाम वापस देता है उसे output data बोलते है।

1822 में चार्ल्स बैवेज ने सबसे पहले Digital Computer बनाया। चार्ल्स बैवेज का कम्पप्यूटर के विकास में बहुत बडा योगदान
रहा हैं । बैवेज का  analytical engine  आधुनिक computer का अधार बना और यही कारण है कि चार्ल्स बैवेज को कमप्यूटर का जनक कहा जाता हैं |


Computer की full form –

C = Commonly
O = Operating
M = Machine
P = Particularly
U = Used for
T = Technical
E = Educational
R = Research



Computer दो चीजों से मिलकर बनता है एक software ( जिनको program भी कहते है) और दूसरा hardware.


Hardware – Hardware computer के physical structure को कहते है जिनको आप touch कर सकते है।

 जैसे -
keyboard, mouse, computer case etc |
इसके अंदर computers के internal parts भी होते हैं जैसे की hard disk, motherboard, CPU आदि होते है |


Software – यह set of instructions से मिलकर बनता है जो की hardware को ये बताता है की उसे क्या काम करना है और कैसे करना है | Software के example है – word processor, games, calculator, browser आदि |



 Computer की कार्य प्रणाली (Computer working) -

Computer के कार्यप्रणाली की प्रक्रिया एक चरणबद्ध तरीके से होती है -


Introduction of computer in hindi


1. Input के लिए  keyboard - mouce इत्यादि  input    device का प्रयोग करते हैं साथ ही computer को software के माध्यम से Command या निर्देश देते हैं या data enter करते हैं।


2. यह उस प्रक्रिया का दूसरा भाग है इसमें  input के द्वारा दी गयी commands या data को processor द्वारा software में उपलब्ध जानकारी और निर्देशों के अनुसार process कराया जाता है।


3. तीसरा और अंतिम भाग output,  इसमें अपके द्वारा दी गयी command के आधार पर process की गयी जानकारी का output computer द्वारा अपको दिया जाता है जो अपको output device द्वारा प्राप्त हो जाता है।



कम्पप्यूटर की विशेषताए (Characteristics of Computers):


Computer हमारे जीवन के हर क्षेत्र में महत्वपूण स्थान रखता है और ईसका कारण है computer कि विभिन्न उपयोगताएं। Computer एक साथ कई कार्य कर सकता है वो भी बिना किसी त्रुटी के, और computer कि ये विशेष, विशेषताएं निम्न प्रकार से है।


1. संग्रह क्षमता (storage capacity):- computer के पास बहुत अधिक संग्रह क्षमता होती है। वह अपने अंदर डेटा को संग्रहित कर सकता है, और उस संग्रहण को internal storage बोलते है। और इसी के साथ computer दूसरे memory में भी data transfer करता है जिसे हम external device कहते हैं।


2. स्वचालित (Automatic):- computer एक automatic machine है, ईसका अर्थ यह है कि एक बार कम्पप्यूटर को जो भी कोई कार्य (task) दे दिया गया तो वो तब तक चलता रहता है जब तक वह कार्य (task) पूरा नहीं हो जाता।


3. गति (Speed):- computer बहुत ही speed  से चलता है अर्थात बहुत जल्द ही कार्य को पूरा करता है। वह एक पल (second) में Million task को पूरा करता है। Computer कि चाल micro second  (10-6) व nano second  (10-9) में मापी जाती है। जो कि बहुत ही कम समय में अपको अपके task के अनुसार अपको परिणाम दे देता है।


4. शुद्धता (Accuracy):- computer बेहद सटीक और विश्वसनीय परीणामों को दिखाता है। यह 100% accuracy प्रदान करता है computer से गलती तभी हो सकती है जब user उसमे गलत data डाले । देखा जाए तो इसमें भी computer कि गलती नहीं है।


5. बहुमुखी प्रतिभा (Versatility): - इसका अर्थ यह है कि computer, कायों की एक विस्तृत विविधता का प्रदर्शन करने में सक्षम है, जैसे कि -



  • Computer, data को स्वीकार कर सकता है और उस पर क्रिया के परिणाम का उत्पादन कर सकता है।
  •  Computer इसके अलावा जोड, घटाव, गुणा और भाग के बुनियादी  अंकगणितीय operations पर क्रिया कर सकता है।
  •  Computer तार्किक operation पर क्रिया करता है। 
  • Computer internal (आंतरिक) और external (बाह्य) दोनों प्रकार के डेटा को transfer कर सकता है, ईसका मतलब है कि computer में डेटा एक हिस्से से दूसरे हिस्से में आसानी से प्रवाहित हो सकता है।.


6. तत्परता (Diligence): - computer हमेशा पहली बार कि तरह ही सटीक और विश्वसनीय परिणाम देने की क्षमता रखता है, क्योंकि computer थकान और एकाग्रता की कमी से पूर्णतः मुक्त है और घंटो बिना रुके कार्य कर सकता है।


7. Perfect  Memory and Large Storage: - computer अपने पास बहुत सी सुचना और डेटा को store कर सकता है और कभी भी इसे प्राप्त कर सकता है। Computer कि स्मृति और भंडारण क्षमता असीमित होती है।


8. No I.Q: - computer के पास अपनी कोई बुध्दि नहीं होती। यह एक dumb मशीन है और यह बिना आदेश के कोई भी काम नहीं कर सकता है। इसे आदेश user के द्वारा दिया जाता है।


9. No Emotions - computer के पास किसी भी प्रकार की कोई भावनाएं नहीं होती है और उस का कारण यह है कि computer के पास अपनी स्वयं कि बुध्दि  जो नहीं होती है और उसी करण computer को कभी भी थकान महसूस नहीं होती और वो लगातार कार्य करता रहता है।







Post a Comment

0 Comments