Data model in dbms in hindi | dbms data model in hindi

Data model in dbms in hindi | dbms data model in hindi -

Data model in dbms in hindi | dbms data model in hindi -

Data model ऐसे model जिनका प्रयोग database को design करने में किया जाता है उसे Data Model कहते हैं।

Data base designing में data description, data relationship, database language व consistency constraint include है

Different type के structure एवं abstraction के लिए different data model का use किया जाता है।

Data model in dbms in hindi | dbms data model in hindi


Types of data model in hindi - 

Data Model को three categories में divide किया गया है -

(1) Object based data model,
(2) Record based data model,
(3) Physical data model.

(A) Object based data model - 

logical व view level पर Object based logical model का data को describe करने के लिए use करते हैं। ये flexible structuring व structuring capabilities provide करते हैं और data constraints को specify करने की सुविधा देते हैं.।


ये model इस प्रकार हैं :-
(1) Entity relationship model,
(2) Object oriented model,
(3) Sementic model,
(4) Functional data model.

Read Also - Trigger In DBMS in hindi - ट्रिगर क्या है

(1) Entity Relationship model - 

इसे E.R. Model कहा जाता है। ये Entity के group से
मिलकर बना होता है जो Real word पर based होता है Entity के बीच Association को relationship से define किया जाता है। सभी same entity के set एवं सभी same relationship के set को Entity set व Relationship set कहते हैं।

Data model in dbms in hindi | dbms data model in hindi



(2) Object oriented data model - 

ER Model कि तरह यह भी Real word object पर
based होता है। Object value contain करता है जो instance variable पर stored रहते हैं। Object
code को contain करते हैं जिन्हें Method कहते हैं।

(3) Sementic data model - 

DBMS में logical data Structure, hierarchical, network, Relational व data के Conceptual definition की requirement को fulfil नहीं कर पाती क्योंकि इसका Scope limited होता है। इसलिये data को Cempletely define करने के लिए Sementic Data model का use किया जाता है। यह एक abstraction है जिसमें Symbol को Real word से relate किया जाता है।

(4) Functional data model - 

ये enterprise function का graphical Representation होता है। इसे Process model कहते हैं। इसका main work function describe करना व information define करना होता है।

(B) Record based data model - 

Record based logical model, logical व view level पर data को describe करने के लिए use किया जाता है। ये data model overall logical structure को specify तथा higher level structure को specify तथा higher level description provide करने के लिए किया जाता है।


इसे तीन parts में divide किया गया है -

(i) Relational data model -

किसी भी data व data के बीच Relation को show करने के लिए इसका use किया जाता है।


(ii) Network data model -

इस Model में data को Record के form में तथा उनके बीच न Relationship को Link के form में रखा जाता है। इसमें Record के बीच Relation को show करने के
लिए Pointer का use किया जाता है।


(iii) Hierarchical Model -

इस Model में Data multiple label में store किया जाता है जिसमें Data hierarchical structure के form में store होता है। यह inverted tree के form में होता है। इसमें root सबसे ऊपर होता है। इसमें Different data item के बीच Hierarachical relation define करने के लिए Pointer का use किया जाता है।


 (C) physical data model - 

इस data model का use low level पर data को describe करने के लिए किया जाता हैं।

Also Read - 

Post a Comment

0 Comments