Array in c language in hindi - c language array in hindi

 

Array in c language in hindi - c language array in hindi

C language array क्या है।

Array (अरे) एक ही प्रकार के Data items के एक समूह होते हैं। ये Data items एक-दूसरे से सम्बन्धित होते हैं। इन समूह को एक ही नाम से पहचाने जाते हैं। Array के सभी Data items मेमोरी में एक ही स्थान पर Store किये जाते हैं जिन्हें Contiguous Memory Allocation कहते हैं।


किसी Array को Declare करने के लिये नाम के बाद बड़ा कोष्ठक (Square Bracket) में एक Value लिखते हैं जिसे Array की आकार (size) कहते हैं।


int n [10];


"1" एक Array Variable है जिसमें विभिन्न 10 नम्बरों को Strore किया जा सकता है। इन Numbers को Access (उपयोग) करने के लिये एक Value की आवश्यकता होती है जिसे Index Value कहते हैं जो उस Data item की इस Array में स्थिति (Position) को बताता है। Array में Index Value © (zero) से प्रारम्भ होती है।


Array Declaration की कुछ महत्वपूर्ण बाते जिन्हें आगे Programming में उपयोग किया जायेगा


 (1) Array एक ही जैसे (Same Type) Data Items का समूह होता है।

(2) Array के पहले Data Item की स्थिति (Position) 0 (Zero) से प्रारम्भ होती है। 

(3) Array को प्रयोग करने के पहले इसका प्रकार (Type) एवं आकार (Size) तय करना आवश्यक होता है।

(4) Array के सभी Data Items मेमोरी में एक ही स्थान पर Store किये जाते हैं जिन्हें एक Index Variable की सहायता से Use किये जाते हैं।

(5) Amay को sub-script variable भी कहते हैं।



Types of Arrays in c language - Array के निम्न प्रकार हैं-

(i) One Dimensional Array

(ii) Two Dimensional Array

(iii) Multi Dimensional Array


(1) One-Dimensional Array- वन डाइमेंशनल अरे को single dimensional array भी कहते हैं। यह एक लीनियर लिस्ट (Linear list) है जिसमें एक ही प्रकार (similar type) के तथा सम्बन्धिति (related) data items को store किया जाता है। मेमोरी में सभी data items एक के बाद एक (कंटिजियस) contiguous memory allocations में store किये जाते हैं।

One-dimentional Array के सभी Data Items को Access करने या पढ़ने के लिये एक Index Variable का उपयोग किया जाता है।

Declaration:

Syntax : datatype name [size];


Number of elements


Example : int n [5];


ii) Two-dimensional array- टू-डाइमेंशनल अरे को Data Items का Matrivx Presentation भी कहते हैं। Two-dimensional array का प्रयोग Data Items को Tabular Form में रो तथा कालम (Rows & Columns) में Arrange करने के लिये किया जाता है। इसमें किसी विशेष Data Item को प्रदर्शित करने के लिये दो Index Value का उपयोग किया जाता है । पहली रो (Row) के लिये तथा दूसरी कॉलम (Column) के लिये।


Declaration:

datatype name [no. of Rows] [no. of Columns];


Example:

int A [3] [3];


(ii) Multi-dimensional array- Two-dimensional array को multi-dimensional array का एक प्रकार माना जाता है। हालाँकि 3-Dimensional, 4-Dimensional array को बनाने के लिये इसका उपयोग किया जाता है।


जैसे, int M [2] [3] [2];


Use of array in c programming -

'C' Programming में Array के कई उपयोग हैं। जैसे


(1) एक ही प्रकार के कई data-items को स्टोर करने के लिये Array का उपयोग किया जाता है। 

(2) Aay का उपयोग Number या String के list को manage करने के लिये किया जाता है। 

(3) Array का उपयोग विभिन्न प्रकार के Matrix Operation करने के लिये किया जाता है।

जैसे- Addition & Multiplication of two matrixes, आदि।

(4) Array का उपयोग Recursive function में भी किया जाता है ।

(5) Computer में CPU Scheduling के लिये भी Array का उपयोग किया जाता है।


advantages of array in c language - 


(1) हम बड़ी आसानी से Array Elements को Access कर लेते हैं। 

(2) 'C' भाषा में Array की सुविधा के कारण बहुत सारे Variables Declare करने से बच जाते है।

(3) Array Elements मेमोरी के लगातार Locations में रखे जाते हैं।

(4) Array के द्वारा हम Similar Objects के लिए समान (Same) Name का प्रयोग कर पाते हैं। 

(5) एक ही प्रकार के Data पर यदि कार्य किया जा रहा है तो तब यह बहुत उपयोगी / लाभप्रद सिद्ध होता है।

(6) Array Reference Type का प्रयोग करते हैं।

(7) इससे बड़ी आसानी से Number तथा String के List को Manage किया जा सकता है।

(8) इसका उपयोग Data Items को Sort तथा Search करने के लिए भी किया जाता है। 

(9) Array Matrix मैनीपुलेशन में भी उपयोगी होता है।

(10) यह Recursive फंक्शन में भी उपयोग किया जाता है।

(11) यह Structure के साथ भी प्रयोग करने योग्य होता है।


Disadvantages of Array in C language -


(i) Static Data

(a) Array Static Data Structure होता है।

(b) मेमोरी का Allocation कम्पाईल टाइप पर होता है।

(c) अत: एक बार मेमोरी एलोकेशन Compile Time पर हो जाने के बाद Runtime पर उसे नहीं बदला जा सकता।


(ii) Can Hotal data belonging to same data types -

(a) Array में dissimilar data types को नहीं रख सकते।

(b) उदाहरण :- Character एवं Integer Values अलग-अलग Arrays में Store किए जा सकते हैं किंतु दोनों एक ही Array में नहीं।


(iii) Inserting data In Array is DIfficult -

(a) Array में नए Data को Enter करने के लिए Empty Space बनाना पड़ता है जिसमें पहले से उपलब्ध Elements Shift किए जाते हैं। (b) Array में नए element insert करने का आपरेशन होते जाता हैं जैसे-जैसे Array की साइज


बढ़ती जाती है।


(iv) Deletion operation in Array is also difficult -

(a) क्योंकि Array Elements सतत् मेमोरी में Locations Stored होते हैं। (b) किसी एक Element को हटाने के बाद बाकी सभी की Shifting करनी होती है।


(v) Bound Checking-

(a) यदि किसी Array की Size N है और हम Nth या (N +1 )th elements को Acess करने का प्रयास करते हैं तो कोई Error Message नहीं आता। अर्थात् C Boind Checking नही करता।

(vi) Wastage of memory -

(a) यदि हम Array की बड़ी साइज Declare कर बहुत value store करते है। तो व्यर्थ ही memory Locations Unsed रह जाती है।




Post a Comment

0 Comments