access file system in vb in hindi

access file system in vb in hindi

फाइल एक्सेस सिस्टम इन विजुअल बेसिक - 

फाइल सम्बन्धित डेटाओं के समूह को कहते हैं जिसके अन्तर्गत यूजर के द्वारा create किये गए Documents तथा प्रोग्राम होते हैं जिन्हें परमानेन्टली (Permanently) disk में Store कराया जाता है तथा Store data के साथ user सभी manupulation कर सकता है। जैसे- editing, modify, delete, copy, save इत्यादि। Files के द्वारा यूजर disk में store किये गए डेटा का Access भी कर सकता है। किसी प्रोग्राम में यदि फाइल का प्रयोग नहीं होता है उस स्थिति में प्रोग्राम का क्रेता variable तथा array के रूप में Temporary memory में store होता है तथा यह केवल तभी तक मैमोरी में रहता है जब तक execute किया गया प्रोग्राम close न हो जाए।


फाइल्स के द्वारा ही Stored किये गए डेटा read अथवा write किया जाता है। यह हम किसी व प्रोसेसर अथवा वर्ड प्रोसेसर के बनाए गए Application के माध्यम से कर सकते हैं। System में mainly three types की files उनके काम के आधार पर create की जाती है जो के कि निम्न हैं


1. Sequential files

2. Binary files 

3. Random Access files 


1. Sequential files - 

जैसा कि नाम से ही स्पष्ट होता है sequential files ऐसी files होती है जिन्हें continuous block में read अथवा write करने के लिए create किया जाता है। यहाँ डेटा मुख्यतः sequence में store होते हैं। जिस तरह इन फाइल्स को read किया जाता है उसी प्रकार इसे write भी किया जाता है। यह फाइल्स की सबसे बड़ी समस्या इसका read अथवा write करने में अधिक समय लेने की है। Sequential files के अर्न्तगत string files को Double Quatations में बन्द किया जाता है तथा प्रत्येक files की command से अलग किया जाता है। Sequantial files को मुख्यतः Open output Append mode में use किया जाता है।


यदि फाइल दिये गए स्थान पर स्थित नहीं है, तो विजुअल बेसिक इसे एक नई रिक्त फाइल बना देता है और यदि फाइल दिये गए स्थान पर स्थित है तथा इसे output में खोला गया है तो डेटा की प्रविष्टि एक नए सिरे से होती है अर्थात् इस files की प्रविष्टि पहले से स्थित डेटा पर overwrite हो जाती है।


उदाहरण- Sequential files में Data read and write करना।


Dim fileNo As Integer File No Free File.

Open "C:\my text. text " For Append As file No

Print # file No, "Ajay" Print #file No, 12000

close file No


access file system in vb in hindi


2. Binary files - 

विजुअल बेसिक में Binary files के द्वारा डाटाओं को Binary format में reading और writing करने के लिए Binary flies का प्रयोग किया जाता है। इस mode में file को लिखने के लिए put स्टेटमेन्ट तथा पढ़ने के लिए Get statement का प्रयोग किया जाता है। बायनरी और Random के मध्य केवल इतना अन्तर है कि Random Access files को खोली गई फाइल के Data को हम Record के आधार पर पढ़ते और लिखते हैं अर्थात् फाइल से Randomly Access कर सकते हैं जबकि Binary Access मोड में खोली गयी डेटा को Randomly Access नहीं कर सकते हैं। Binary Access mode में खोली गई फाइल के Data को हम एक श्रृंखला के रूप में पढ़ सकते हैं। निम्न कोड के हम 20 बाइट्स तक पढ़ सकते हैं।


T = String ( 20, "") 

Get #file No,,T


ध्यान देने योग्य बात यह है कि उपरोक्त कोड में RecNo पैरामीटर नहीं है, क्योंकि फाइल से डेटा के रूप में पढ़ा जाता है। विजुअल बेसिक फाइल की प्रारम्भिक स्थिति को नोट करके रखता है इसलिए प्रोग्रामर को यह ज्ञात करने की आवश्यकता नहीं होती कि फाइल कहाँ से शुरू हो रही है। 


3. Random Data files - 

यह ऐसा file type है जिसमें Data को read अथवा write किसी भी order से किया जा सकता है। यह Data को Randomly Access करने के लिए use होता है जबकि Sequential फाइल डेटा को हर बार read करने के लिए प्रारम्भ से शुरू करना होता Sequential file अपनी इसी समस्या के कारण अधिक समय files को Access करने के लिए लेती है जबकि इससे साथ ऐसी कोई समस्या नहीं तथा यह निर्धारित fixed length के Records को Access करता है। "इसे टेबल के माध्यम से आसानी से समझा जा सकता है


access file system in vb in hindi


Random files में सारे Records same size के होते हैं। Records में सारे fields का Length और position fixed होता है। 

Random files के लिए Record को define करना - जब किसी Random files को define किया जाता है तो इसे structrue की तरह define करना होता है।


Private Type Member StrName As String * 20

StrAge As String *20

StrCon As String *20

End Type.


Random files को open करना - इसे open statements के द्वारा open किया जाता है।


Example - 

Open "C:\data\age.txt" for Random As # 10

Post a Comment

0 Comments